Vyakti Vishesh – चौधरी चरण सिंह




Vyakti Vishesh- Chaudhry Charan Singh

चौधरी चरण सिंह  भारत के पूर्व प्रधानमन्त्री थे। चौधरी चरण सिंह ने अपना सम्पूर्ण जीवन भारतीयता  

और ग्रामीण परिवेश की मर्यादा में जिया। चरण सिंह का जन्म एक जाट परिवार मे हुआ था। स्वाधीनता के समय

उन्होंने राजनीति में प्रवेश किया। स्वतन्त्रता के पश्चात् वह राम मनोहरलोहिया के ग्रामीण सुधार आन्दोलन में लग गए।

vyakti-vishesh-chaudhry-charan singh

कांग्रेस के लौहर अधिवेशन में पूर्ण स्वराज का प्रस्ताव पारित हुआ था, जिससे प्रभावित होकर युवा चौधरी चरण सिंह राजनीति में

सक्रिय हो गए। उन्होंने गाजियाबाद में कांग्रेस कमेटी का गठन किया। 1930 में जब महात्मा गांधी ने सविनय अवज्ञा आंदोलन का



आह्वान किया तो उन्होंने हिंडन नदी पर नमक बनाकर उनका साथ दिया। जिसके लिए उन्हें जेल भी जाना पड़ा।

चौधरी जी की मृत्यु 29 मई 1987 को हुई थी इनकी पत्नी का नाम गायत्री देवी था। इनके पुत्र अजीत सिंह है।

ये एक महान क्रांतिकारी थे जिसके लिए इनको कई बार जेल भी जाना पड़ा  जेल मे ही इन्होने पुस्तक लिखी ‘‘शिष्टाचार‘‘, भारतीय संस्कृति और समाज के शिष्टाचार के नियमों का एक बहुमूल्य दस्तावेज है।

 

loading...

और भी ख़बरें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *