रिश्वत लेते धरा गया यूपी पुलिस का सिपाही, एफआइआर दर्ज

लखनऊ- प्रदेश की राजधानी में यूपी पुलिस के एक सिपाही को एंटी करप्शन की टीम ने धर दबोचा. सिपाही बलवंत चंद मोहनलालगंज थाने का है जिसको 35 हजार रुपये रिश्वत लेते रंगे हाथों गिरफ्तार किया गया है. बलवंत सिसेंडी के पूर्व प्रधान राजेश जायसवाल से दीवार बनवाने के नाम पर पैसे की मांग कर रहा था. आरोपी सिपाही के खिलाफ बंथरा थाने में एफआइआर दर्ज हुई है. आपको बता दे कि इससे पहले भी यहीं के एक दारोगा को भी रिश्वत लेते हुए गिरफ्तार किया जा चुका है. पूरा मामला जिले के सिसेंडी कस्बा निवासी राजेश से जुड़ा हुआ है. राजेश ने दो महीने पहले बिजनौर मार्ग पर अपने बेटे के नाम जमीन की रजिस्ट्री कराई थी. पीड़ित का आरोप है कि जब जमीन खरीदने के बारे में सिसेंडी चौकी पर तैनात सिपाही बलवंत चंद को लगी तो उसने जमीन बेचने वाले मुन्ना के भाई से जमीन पर मुकदमा चलने की बात लिखवा दी.


up police cap

कुछ दिन पहले जब राजेश बाउंड्री का निर्माण करवा रहा था तब सिपाही ने काम रुकवा दिया और रुपये की मांग करने लगा. राजेश ने शिकायत करने वाले हरी से लिखित समझौता कर लिया. समझौते की बात जब सिपाही को लगी तो उसने हरी को पीटा और जेल भेजने की धमकी भी दी. राजेश जायसवाल ने इसकी शिकायत इंस्पेक्टर धीरेंद्र प्रताप कुशवाहा से भी की ,लेकिन वह भी इसे टरकाते रहे. राजेश ने सिपाही की पैसे मांगते हुए बातचीत रिकॉर्ड कर ली और इसकी सूचना एंटी करप्शन टीम से की. टीम ने जाल बिछा कर योजनाबद्ध तरीके से राजेश से फोन करके सिपाही को बुलाया और जैसे ही बलवंत ने 35 हजार रुपये लिए, टीम ने उसे पकड़ लिया.

loading...

और भी ख़बरें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *